सिग्रामपुर रेंज में गिद्धों की संख्या में हुआ इजाफा, यहां के जंगल तीनो ओर से घिरी पहाड़ियां रास आ रही गिद्धों को

दमोहः मांसाहारी पक्षियों में उच्च श्रेणी के पक्षी गिद्ध को जिले के सिग्रामपुर जंगल पहाड़ियों को की आवोहवा रास आ रही है, यही वजह है यहाँ में गिद्धों की संख्या लगातार बढ़ रही है जिससे जिले के सिग्रामपुर रेंज गिध्दों के लिए सुरक्षित रहवास यानी बलचर पॉइंट बना हुआ है।
जिले के वन परिक्षेत्र सिग्रामपुर अंतर्गत रानी दुर्गावती वन अभ्यारण में स्थित पर्यटक स्थल नजारा व्यू पॉइंट के समीप तीनों ओर से पहाड़ी से घिरा पॉइंट जहाँ सैकड़ो की तादाद में विलुप्त होती प्रजाति गिध्द बड़ी संख्या में रहवास बनाए हुए है यही कारण वल्चर पॉइंट के नाम से पहचान बनी हुई है। जहाँ पर पृथ्वी के सफाई कर्मी, बिलुप्त होती प्रजातियों गिध्दों को आसानी से चारो ओर आसमान में स्वछंद में समूहों में उड़ते हुए दिखाई दे रहे है पहाड़ी पर गिद्धों ने अपना घोंसले बनाकर रहते है ।जिले में गिद्धों को देखने के लिए इससे सुंदर स्थान जिले में और कहीं भी नहीं है जहां इतनी बड़ी संख्या में गिद्धों को आसानी से उड़ते हुए या चट्टानों पर बैठे देखा जा सकता है।वही वर्तमान में यह प्रजाति गिध्द विलुप्त होती जा रही है।जो शोध का विषय भी है।वही सरकार एव वन विभाग इनके संरक्षण के लिए विशेष अभियान चला रही है।इसी क्रम में बन विभाग ने प्रदेश स्तर पर गिद्ध गणना शुरू की है। जिसमें रविवार को सुबह 8:00 से 9:00 के बीच जमीन पर बैठे हुए गिद्ध की गणना की।सिंगौरगढ़ वन अभ्यारण में 144 विभिन्न प्रजातियों के गिद्ध पाए गए। जिसमे प्रमुख रूप से इंडियन लॉन्ग बविल्ड, इजिप्शियन गिद्ध, यूरेशियन ग्रेफान,सफेद एजिप्सियन,हिमालय ग्रेफान जैसी दुर्लभ प्रजाति के गिद्ध वन जीव अभ्यारण सिग्रामपुर में पाए गए हैं। प्रदेश स्तरीय गिद्ध गणना में पिछले वर्ष की अपेक्षा इस बर्ष गिद्धों की संख्या में इजाफा हुआ है जिसके चलते दमोहः वन् मंडल क्षेत्र में गिद्धों की कुल संख्या 190 पाई जाती जिसमे सिग्रामपुर रेंज में सर्वाधिक 144 गिद्धों की संख्या है,
सिग्रामपुर रेंजर बीएस राजपूत ने बताया कि हर साल प्रदेश स्तर पर गिध्दों की गणना होती है।वर्तमान में गिध्दों की प्रजाति विलुप्त होती जा रही है।किंतु सिग्रामपुर रेंज में बलचर पॉइन्ट में गिध्दों को रहने का सवसे सुरक्षित स्थान है जहाँ विभिन्न प्रजाति के गिध्द बड़ी संख्या में घोंसला आदि बनाकर रहते हैं।बलचर पॉइंट में गिध्दों को रहने अनुकूल परिस्थितियां है।इस गिद्ध गणना में वन मंडल अधिकारी दमोह, भारतीय जीव संरक्षण संस्थान देहरादून से अजय सिंह, एसडीओ धीरेंद्र प्रताप सिंह,रेंजर भगवान सिंह राजपूत ,एच एल कोदल सेंचुरी रेंजर अनिल ठाकुर, बृजेश राठौर,बीटगार्ड के सहयोग से की गई ।

मनोहर शर्मा की रिपोर्ट

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275