वैज्ञानिक संत आचार्य श्री निर्भय सागर जी महाराज का दमोह से बिहार, रात्रि विश्राम आनू में आज बांदकपुर में होगी मंगल आगवानी

दमोह। वैज्ञानिक संत आचार्य श्री निर्भय सागर जी का दमोह इसे दोपहर में बिहार हो गया रात्रि विश्राम आनू ग्राम में हो रहा है वही शुक्रवार सुबह बांदकपुर में आचार्य श्री की मुनि संघ सहित मंगल आगवानी सकल जैन समाज द्वारा की जाएगी। आचार्य श्री निर्भय सागर जी महाराज का द्रोणागिरी सिद्ध क्षेत्र से दमोह नगर में गत वर्ष ग्रीष्म की तपन के दौरान आगमन हुआ था। श्री दिगंबर जैन नन्हे मंदिर में वर्षा योग संपन्न होने के बाद जबलपुर नाका मन्दिर में शीतकालीन बचना संपन्न हुई थी। वही नोहटा में विधान आयोजन पश्चात जबलपुर नाका पालीटेक्निक परिसर में पंचकल्याणक गजरथ महोत्सव आचार्य श्री के सानिध्य में संपन्न हुआ था। पिछले कुछ दिनों से राजीव गांधी जैन मंदिर में आचार्य श्री की दिव्य देशना का लाभ सभी को मिल रहा था।गुरुवार दोपहर आचार्य श्री का संघ के साथ बिहार होने पर बड़ी संख्या में श्रावक जन साथ में पद विहार करते हुए अनु ग्राम तक पहुंचे वहीं शुक्रवार सुबह बांदकपुर क्षेत्र के लोग आचार्य श्री की अगवानी करने के लिए आनू ग्राम पहुंच जाएंगे। बांदकपुर से श्री कुंडलपुर, बिलहरी, पनागर, बहोरीबंद, मढियाजी, जबलपुर, कोनी जी आदि तीर्थ के दर्शन करते हुए वैज्ञानिक संत की आगामी दिनों में सागर पहुंचने की संभावना है। आचार्य श्री ने आज उपदेश करते हुए कहा श्रद्धा के बिना किसी कार्य में सफलता नहीं मिल सकती है श्रद्धा सफलता की नीव है। मोक्ष महल की सीढ़ी है, पुण्य आत्मा की भाग्य से भगवान का उपदेश होता है और नगर नगर में बिहार होता है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275