खूब चलेंगे गप्पो के तीर आ रहे हैं घोषणा वीर : पंडित अभिषेक डिम्हा

दमोह। खूब चलेंगे गप्पो के तीर आ रहे हैं घोषणा वीर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान का कल दमोह आगमन हो रहा है। जो कि अपनी घोषणाओं झूठी बातें के लिए पूरे भारत देश में जाने जाते हैं। एक ऐसे मुख्यमंत्री जो जहां जाते हैं वहां नारियल अपने साथ लेकर जाते हैं और झूठी घोषणाओं और भूमि पूजन करते हैं ऐंसा कहना है दमोह के कांग्रेस नेता पंडित अभिषेक डिम्हा का उन्होंने बताया मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनता की चुनी सरकार को गिरा कर लोगों के लोकतंत्र पर बने भरोसे को तोड़ने का काम किया है। ऐसे लोगों के राजनीति में सक्रिय रहने पर क्षेत्र आने पर लोगों के मन से राजनीति के प्रति गलत भावनाएं और अविश्वास पैदा होता है भाजपा की कार्यशैली इस तरह हो गई है की जनता सरकार में किसी भी पार्टी को चुनेगी खरीद-फरोख्त करके सरकार हम ही बनाएंगे। 11 माह पहले भाजपा ने कांग्रेस की सरकार गिराने के बाद अब तक 23000 हजार करोड़ का कर्ज ले लिया है।

मध्य प्रदेश पर पहले से हजारों करोड़ों का कर्ज था इसके बाद भी मुख्यमंत्री जी ने इतना कर्ज लेकर मध्य प्रदेश पर और कर्ज का भोज डाल दिया है अप्रैल 2020 से मुख्यमंत्री ने 33 घोषणाएं की है जिसका खर्च 34 हजार करोड़ से अधिक से अधिक है लेकिन इन घोषणाओं का जमीनी हकीकत पर कोई अस्तित्व नहीं है कुछ ऐसी ही घोषणा दमोह में की गई है भाजपा सरकार द्वारा दमोह में मेडिकल कॉलेज बनाने की घोषणा की गई है यह घोषणा दमो उपचुनाव को लेकर जनता को भ्रमित करने के लिए हुई है और यह घोषणा मुख्यमंत्री की उन्हीं घोषणाओं की तरह है जिनका जमीनी हकीकत से कोई लेना देना नहीं होता इस तरह घोषणा मुख्यमंत्री जी 2018 में चुनाव के पहले छतरपुर में की जहां आजतक ईट इधर की उधर नहीं हुई दमोह में उपचुनाव होने के कारण मुख्यमंत्री अपनी झूठी घोषणाओं के बल पर दमोह उपचुनाव जीतने की कोशिश में लगे हुए हैं और जनता की भावनाओं से खेलने का प्रयास कर रहे हैं दमोह में हम इस तरह की झूठी घोषणाओं का विरोध करते हैं हमारा दमोह अपने सच ईमान और दम के लिए समूचे मध्यप्रदेश में जाना जाता है मुझे पूरी उम्मीद है जनता ऐसे झूठे नेताओं पर भरोसा ना कर के दमोह उपचुनाव में उन्हें सबक सिखाएगी जहां मोदी और शिवराज के द्वारा महंगाई को डायन कहा जाता था लगता है वही मंहगाई इनकी महबूबा हो गई है इन्हें महंगाई से प्यार हो गया है इनके कार्यकाल में महंगाई इतिहास में सबसे महंगे पायदान पर है पेट्रोलियम गैस ने लोगों की कमर तोड़ने का काम किया है किसानों के साथ इनका अत्याचार बताता है कि यह सरकार कितनी किसान हितेषी सरकार हैं किसान आंदोलन में हुई मौतों में नरेंद्र मोदी जी की तरफ से आज तक मृत किसानों के लिए ना तो कोई संवेदनाएं प्रकट की गई
ना दुख व्यक्त किया गया ये सत्ता के लालची व्यक्ति है इन्हें सत्ता सुख बस चाहिए जनता की सेवा से इन्हें कोई लेना देना नहीं है इनकी कार्यशैली से प्रभावित होकर दमोह से विधायक रहे राहुल सिंह ने भाजपा की सदस्यता ली इन्हें भी सत्ता सुख मंत्री पद की लालसा और पैसा कमाने में इतना मगरूर हो गए कि यह भूल ही गए की दमोह की जनता ने उन्हें अपने भरोसे के साथ जनमत देकर विधायक बनाया था परंतु यह सत्ता और पैसों के इतने लोभी व्यक्ति निकले, कुछ दिन पहले तक 35 करोड में बिके विधायकों का आंकड़ा गिरा रहे थे और 50 करोड़ से अधिक पैसा मिलने पर खुद बिक गए इनकी कार्यशैली तो मैं उस समय समझ गया था जब 15 महीने की कांग्रेस सरकार में इन्होंने पैसा कमाने के अलावा कोई कार्य नहीं किया, जनता की सेवा और जनता ने उन्हें चुन कर भेजा है तो जैसे यह भूल ही गए थे मुझे दमोह की जनता पर पूर्ण विश्वास है आगामी दमोह उपचुनाव में जनता ऐसे व्यक्ति को हराकर वापस उनके घर भेजने का काम करेगी।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close

Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275